Fellowship Hindi

फ़ेलोशिप का परिचय

भारत के अधिकतर युवा आजीविका के दबाव के चलते पढ़ाई ख़त्म करने के ठीक बाद ही काम करना शुरू कर देते हैं जिससे उन्हें अपने-आप और अपने इर्द-गिर्द के समाज को गहराई से समझने और परखने का कोई मौक़ा नहीं मिलता। इस कारण से वे देश-दुनिया की व्यापक समझ नहीं बना पाते और एक समालोचनात्मक दृष्टिकोण विकसित नहीं कर पाते। और इसके चलते कई होनहार युवा समाज से एक सार्थक जुड़ाव क़ायम नहीं कर पाते।

सामाजिक जुड़ाव को प्रोत्साहित करने के इरादे से इनलैक्स शिवदासानी फ़ेलोशिप स्नातकों और शुरुआती या मिड-करीयर पेशेवरों को वह आत्म-विश्वास और आर्थिक सम्बल प्रदान करेगी जिससे कि वे विमुक्त मानस से वैकल्पिक जीवन की अवधारणा बना सकें। इस फ़ेलोशिप के माध्यम से युवा सामाजिक रूप से प्रासंगिक मुद्दों पर काम करते हुए सार्वजनिक जीवन में अपनी भागीदारी निभा पाएँगे।

इस फ़ेलोशिप में युवाओं को अपने चुनाव के एक संरक्षक/मार्गदर्शक (Mentor) के साथ काम करने और एक ऐसी प्रक्रिया से ख़ुद को जोड़ने का मौक़ा मिलेगा जिसमें उनका ज्ञान और अनुभव सामाजिक बदलाव का ज़रिया बनेगा। यह काम कई तरीक़ों का हो सकता है: ऐक्शन-ऑरीएंटेड शोध, जनहित के मुद्दों पर क़ानूनी पैरवी, जनहित के मुद्दों पर पत्रकारिता, प्राकृतिक संरक्षण के प्रयास, अल्प-संख्यकों के अधिकार, सार्वजनिक स्वास्थ्य व्यवस्था आदि। यह फ़ेलोशिप सभी फ़ेलोज़ को समाज की विविधता को समझने और अपने काम में उस विविधता का सम्मान करने तथा अपनी रुचि के जनहित के मुद्दों से उम्र भर जुड़े रहने का मौक़ा देगी।

इस फ़ेलोशिप में अवसर की समानता, सामाजिक समावेश, अभिव्यक्ति की आज़ादी और व्यक्तिगत तथा संवैधानिक अधिकारों के सम्मान का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

 

पात्रता
निम्न दो श्रेणियों में कुल छः फ़ेलोशिप प्रदान की जाएँगी:
1) स्नातक (आवेदक की उम्र 15 मई 2022 को 30 वर्ष से कम हो और उनके पास स्नातक की उपाधि हो); तथा
2) शुरुआती या मिड-करीयर पेशेवर (आवेदक की उम्र 15 मई 2022 को 35 वर्ष से कम हो और उनके पास कम-से-कम तीन साल का प्रासंगिक अनुभव हो)।
शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के आवेदकों को बराबर अवसर दिया जाएगा। सिर्फ भारतीय नागरिक के लिए।

 

फ़ेलोशिप राशि
फ़ेलो जहाँ रहते और काम करते हैं उसी के मुताबिक़ उनका मानदेय तय होगा:
1) 45,000₹ प्रति माह यदि फ़ेलो “X” श्रेणी के इलाक़े में रहते और काम करते हैं।
2) 35,000₹ प्रति माह यदि फ़ेलो “Y” श्रेणी के इलाक़े में रहते और काम करते हैं।
3) 25,000₹ प्रति माह यदि फ़ेलो “Z” श्रेणी के इलाक़े में रहते और काम करते हैं।*

*अपने इलाक़े की श्रेणी जानने के लिए संलग्न दस्तावेज़ को देखें:
https://doe.gov.in/sites/default/files/HRA%20Eng_1.pdf

कुछ विशेष मामलों में फ़ेलो द्वारा किए जा रहे किसी ख़ास प्रोजेक्ट के लिए अधिकतम 20,000₹ की अतिरिक्त सहायता का प्रावधान भी रखा गया है हालाँकि इसकी स्वीकृति फ़ेलो द्वारा भेजे गए विस्तृत प्रस्ताव और ख़र्च सम्बंधी ब्यौरा आदि पर विचार कर केस-बाई-केस दी जाएगी।

इस फ़ेलोशिप की अवधि दो साल होगी बशर्ते कि फ़ेलो परिवीक्षा (Probation) अवधि में संतोषजनक काम करे। परिवीक्षा की यह अवधि फ़ेलोशिप के शुरुआती छः महीने होंगे। इसके अलावा हर फ़ेलो को तिमाही तथा सालाना समीक्षा से भी गुज़रना होगा। मानदेय का भुगतान अग्रिम तौर पर हर छः माह में होगा। मानदेय का भुगतान फ़ेलो द्वारा अपनी तिमाही रिपोर्ट भेजने के बाद ही होगा जिसमें वे स्वयं अपनी प्रगति का मूल्याँकन प्रस्तुत करेंगे। इनलैक्स फ़ाउंडेशन को भेजे जाने से पहले इन प्रगति रिपोर्टों की समीक्षा और इन पर टिप्पणी फ़ेलो के संरक्षक (Mentor) द्वारा की जाएगी।

 

आवेदन की प्रक्रिया और ज़रूरतें:
आवेदन की प्रक्रिया हमें आपकी उम्मीदवारी को परखने में मदद करेगी और हम यह देख सकेंगे कि आपकी सोच/दृष्टि इस फ़ेलोशिप के लक्ष्य से किस हद तक मेल खाती है। आवेदकों से अपेक्षा है कि वे निम्नलिखित दस्तावेज़ सौंपें:

 

1) कार्य योजना
आवेदक द्वारा फ़ेलोशिप की अवधि के दौरान प्रस्तावित काम (या शोध) का संक्षिप्त विवरण।
आवेदक अपने काम (या शोध) के अपेक्षित परिणामों/प्रभावों का भी वर्णन करें।
कार्य योजना का विवरण 1,000 शब्दों से अधिक ना हो।

 

2) उद्देश्य का कथन/विवरण (Statement of Purpose)
उद्देश्य के कथन/विवरण में निम्न बातें ज़रूर शामिल होनी चाहिए:
आपका काम (कार्य योजना) सामाजिक बदलाव में कैसे योगदान देगा? आप कितने समय से यह काम कर रहे हैं?
आप अपने चुने हुए मुद्दे पर सार्वजनिक विमर्श में कैसे योगदान देंगे? इसमें आप विभिन्न माध्यमों का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे पत्र-पत्रिकाओं के लिए लेखन, रिपोर्टों का प्रकाशन, फ़िल्म बनाना, फ़ोटोग्राफ़ी, ब्लॉगिंग, आरकाइविंग (अभिलेख तैयार करना), नाटक आदि।
उद्देश्य का कथन/विवरण 1,000 शब्दों से अधिक ना हो।

 

3) संरक्षक द्वारा दिया समर्थन पत्र (Letter of Endorsement from the Mentor)
हर आवेदक को अपने संरक्षक/मार्गदर्शक (Mentor) द्वारा लिखा एक पत्र सौंपना होगा जिसमें उनके संरक्षक/मार्गदर्शक उनकी कार्य योजना का समर्थन करते हुए उनके काम की देखरेख/पर्यवेक्षण की सहमति दें। साथ ही आवेदक की तिमाही और सालाना प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा कर उस पर टिप्पणी देने के लिए भी संरक्षक/मार्गदर्शक अपनी सहमति जताएँ।

 

4) बायो-डेटा (जिसमें आपकी शिक्षा, काम-काज, सम्पर्क आदि से सम्बंधित जानकारी हो।)

 

5) सिफ़ारिश/अनुशंसा सम्बंधी पत्र (Letter of Recommendation)
एक ऐसे व्यक्ति का सिफ़ारिशी पत्र भी सौंपना होगा जिसने आवेदक के काम की न्यूनतम छः महीने तक देखरेख की हो या उनका मार्गदर्शन किया हो। यह व्यक्ति आपका संरक्षक (Mentor) भी हो सकता है बशर्ते कि आवेदक ने उनके साथ न्यूनतम छः महीने तक काम किया हो। वे आवेदक जिन्होंने हाल ही स्नातक की उपाधि प्राप्त की है वे अपने किसी शिक्षक द्वारा लिखा सिफ़ारिशी पत्र सौंप सकते हैं।

 

6) घोषणा प्रपत्र
आवेदकों को यहाँ उपलब्ध घोषणा प्रपत्र (https://docs.google.com/document/d/1cyVaFgE5lV0XDGcpaibjReW10FRdpic1/edit?usp=sharing&ouid=105903800258575234148&rtpof=true&sd=true) की एक हस्ताक्षरित प्रति भी भेजनी होगी। इस प्रपत्र में उन्हें उनके अन्य वित्तीय स्त्रोत और उनके द्वारा उपलब्ध कराए गए दस्तावेज़ों के सही होने संबंधी सत्यापन तथा इनलैक्स शिवदासानी फ़ाउंडेशन की डाटा नीति से अपनी सहमति ज़ाहिर करनी होगी।

 

फ़ेलोशिप के लिए आवेदन 15 मई 2022 तक स्वीकार किए जाएँगे।

कृपया ऊपर वर्णित प्रत्येक दस्तावेज़ को उसके प्रकार यानी कार्य योजना, उद्देश्य का कथन, बायोडेटा आदि के नाम के साथ सेव करें और इन सभी दस्तावेज़ों को अपने नाम के एक zipped फ़ोल्डर में डालकर इसे fellowships@inlaksfoundation.org पर भेजें। कृपया ईमेल की सब्जेक्ट लाइन में ‘सामाजिक जुड़ाव को प्रोत्साहित करने के लिए इनलैक्स शिवदासानी फ़ेलोशिप का आवेदन’ लिखें।

इन दस्तावेज़ों के आधार पर शॉर्ट-लिस्ट किए गए उम्मीदवारों की सूची 15 जून 2022 को घोषित की जाएगी और शॉर्ट-लिस्ट किए गए उम्मीदवारों को चयन समिति के समक्ष अंतिम साक्षात्कार के लिए जून 2022 में ही आमंत्रित किया जाएगा। अंतिम रूप से चयनित फ़ेलोज़ की सूची 1 जुलाई 2022 को घोषित की जाएगी और उनसे यह अपेक्षा होगी कि वे 1 अगस्त 2022 से अपना काम शुरू कर दें।

 

फ़ेलोज़ से अपेक्षाएँ:

      1. इनलैक्स शिवदासानी फ़ाउंडेशन के साथ किए क़रार-नामे (Contract) की शर्तों और नियमों के मुताबिक़ दो वर्षों की अवधि तक काम करने की प्रतिबद्धता।
      2. फ़ेलोज़ से अपेक्षा है कि वे अपना काम शुद्ध अंतःकरण और अपनी पूर्ण क्षमताओं के अनुसार करेंगे तथा नैतिकता, सामाजिक समावेश और निष्पक्षता के उच्चतम मानकों पर खरे उतरेंगे।
      3. फ़ेलोज़ से अपेक्षा है कि वे अपनी सम्बद्ध संस्था/संगठन की कार्य नीतियों का पालन करेंगे।
      4. फ़ेलोज़ अपनी हर तिमाही की प्रगति रिपोर्ट समीक्षा के लिए फ़ाउंडेशन को भेजेंगे। इन रिपोर्टों की अग्रिम समीक्षा और इन पर टिप्पणी उनके संरक्षक (Mentor) द्वारा की जाएगी।
      5. फ़ेलो अपने काम की एक सालाना प्रेज़ेंटेशन देंगे।
      6. फ़ेलोज़ अपने काम के परे भी अपनी समझ विकसित करने और देश-समाज की व्यापक समझ बनाने
      7. के लिए फ़ेलोशिप के अपने अन्य साथियों के काम से भी जुड़ेंगे और फ़ाउंडेशन द्वारा समय-समय पर आयोजित चिंतन कार्यशालाओं में हिस्सा लेकर इनमें भी अपना योगदान देंगे।

इस सम्बंध में आपके कोई अन्य सवाल हों तो आप हमें fellowships@inlaksfoundation.org पर लिख सकते हैं।

COPYRIGHT © 2017. INLAKS SHIVDASANI FOUNDATION. JOMEL & ZOYA KATHAWALA